अम्फान ने मचाई तबाही, 12 लोगों की मौत

अम्फान तूफान के कारण पश्चिम बंगाल और ओडिशा में तबाही का तांडव शुरू हो गया है. इस तूफान से दोनों राज्यों में एक ही दिन में 12 लोगों की जान चली गई. इलाकों में काफी नुकसान हुआ है.

अम्फान तूफान बुधवार की दोपहर पश्चिम बंगाल के दीघा और बांग्लादेश के हातिया द्वीप से टकराया था. तब यहां 190 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल रही थी. ये हवा ऐसी थी मानों अपने वेग में सब कुछ उखाड़ कर ले जाने को आतुर थी.

तूफान की चपेट में चाहे पेड़ आए हों या गाड़ियां, सब कुछ एक झटके में तबाह हो गया. तूफान की रफ्तार के आगे भारी भरकम गाड़ियां और सालों पूराने पेड़ तक खुद को संभाल नहीं पाए. सभी इसकी भेंट चढ़ गए. सड़कों पर लगे होर्डिंग, खंबे सब तूफान में उखड़ गए.

कोरोना से बड़ी आपदा

पश्चचिम बंगाल मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दावा किया है कि अम्फान कोरोना से भी बड़ी आपदा थी. तूफान में कम से कम 10-12 लोगों की मौत हो गई. इलाके के इलाके तबाह हो गए. उन्होंने कहा कि नंदीग्राम और रामनगर, उत्तर तथा दक्षिण 24 परगना के दो जिले पूरी तरह से तबाह हो गए.

ओडिशा में भी तबाही

इसके अलावा ओडिशा में भी भारी तबाही हुई है. ओडिशा के पुरी, खुर्दा, जगतसिंहपुर, कटक, केंद्रपाड़ा, जाजपुर, गंजम, भद्रक और बालासोर में तेज बारिश हुई. इस दौरान तेज हवा चली. हवा की रफ्तार 110 किमी से ज्यादा नहीं रही. ओडिशा में भी तीन लोगों की मौत की खबर है.

The Depth

TheDepth is India's own unbiased digital news website.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *