तूफान अम्फान से बंगाल में हुआ नुकसान, कई इलाकों से बिजली गायब

  • कोलकाता के निवासियों ने शहर को फिर से काम करने के लिए तेजी से कार्रवाई की मांग की
  • बंगाल में चक्रवात अम्फान के लैंडफॉल बनाने के बाद 86 की मौत हो गई

नई दिल्ली. चक्रवाती तूफान अम्फान से पश्चिम बंगाल में भारी नुकसान हुआ है. राज्य सरकार के आकड़े देखे तो लगभग एक लाख करोड़ रुपये के इंफ्रास्ट्रक्चर और फसलों का नुकसान पहुंचा है. बंगाल की खाड़ी के तट पर इस चक्रवात की वजह से कम से कम 86 लोगों की मौत हो चुकी है. कई क्षेत्र अभी भी बाढ़ के चपेट में है. दूसरी तरफ तूफान के वजह से कई क्षेत्रों में बिजली बार-बार कट रही है. वहीं कोलकाता के लोगों की मांग है कि इस नुकसान की जल्द से जल्द भरपाई होनी चाहिए.

जनता में आक्रोश

तूफान ने पश्चिम बंगाल के लगभग 14 जिलों में भारी तबाही मचाई है. मुख्य रूप से दक्षिण 24 परगना, कोलकाता, उत्तर 24 परगना और पूर्वी मिदनापुर जिलों को ज्यादा नुकसान हुआ है. दक्षिण कोलकाता में कई इलाकों में बिजली गुल है.

इसी बीच यहां रहने वाले निवासियों ने विरोध प्रदर्शन भी किया है. दो दिनों से लोग यहां प्रदर्शन कर रहे हैं. प्रदर्शनकारियों में कई महिलाएं भी शामिल हैं. इनका कहना है कि वे पिछले 3 दिनों कई कठिनाइयों के बीच जीने को मजबूर हैं. उनके घरों में बिजली और पानी नहीं है. उनका यह भी कहना था कि बिजली विभाग में बार-बार कॉल करने पर भी कोई जवाब नहीं मिल रहा था.

कोलकाता में बिजली की स्थिति के बारे में पूछे जाने पर, मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का ब्यान सामने आया. “मुझे पता है कि आपको असुविधा हो रही है. मैं आपसे माफी मांग सकती हूं. या आप मेरा सिर काट सकते हैं. हम भी इंसान हैं. हम बहुत मेहनत कर रहे हैं. हम पूरी रात जागकर रह रहे हैं. 1 करोड़ लोग बेघर हैं. वे लोग कैसे धीरज रखते हैं जिनके पास पीने का पानी नहीं है? ” ममता बनर्जी ने कहा.

Anjali Kumari

Aspiring news reporter and radio jockey.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *