श्रमिक एक्सप्रेस को लेकर BJP का TMC-कांग्रेस पर हमला

लॉकडाउन के बीच प्रवासी मजदूरों का पलायन पर बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की है. पात्रा ने मजदूरों के पलायन को लेकर पश्चिम बंगाल और कांग्रेस शासित राज्यों पर राजनीति करने का आरोप लगाया है. संबित पात्रा ने कहा कि ममता बनर्जी और कांग्रेस शासित राज्य श्रमिक एक्सप्रेस ट्रेन बढ़ाने की इजाजत नहीं दे रहे हैं. काग्रेंस अध्यक्ष सोनिया गांधी और ममता बनर्जी श्रमिकों के मुद्दे पर राजनीति कर रही हैं. उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी ने अजमेर दरगाह से फंसे लोगों को निकालने के लिए ट्रेन चलाई लेकिन अन्य जगहों से लोगों को निकालने में उन्हें कोई रुचि नहीं है.

झारखंड सरकार पर आरोप लगाते हुए संबित पात्रा ने कहा कि हेमंत सोरेन ने अभी तक सिर्फ 48 ट्रेनों को राज्य की सीमा में प्रवेश की इजाजत दी है. पश्चिम बंगाल की ममता सरकार को निशाने पर लेते हुए भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि केन्द्रीय गृह मंत्रालय के पत्र लिखने और केन्द्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल के फोन करने के बावजूद ममता सरकार इस पर कोई कार्रवाई नहीं कर रही है. जबकि उनके नेता इस मुद्दे पर लगातार प्रेस कॉन्फ्रेंस कर राजनीति कर रहे हैं. पात्रा ने कहा कि गृह सचिव ने पत्र लिखकर सभी राज्य सरकारों को कहा है कि वह श्रमिकों को सही तरीके से ट्रेनों तक पहुंचाएं, शेल्टर होम में रखे और उनके खाने-पीने का ध्यान रखे. इसके लिए केन्द्र सरकार ने सभी राज्य सरकारों को पैसा दिया हुआ है.

भाजपा की तरफ से आरोप लगाया गया कि ममता बनर्जी सरकार और कांग्रेस शासित प्रदेशों में कुछ नहीं किया जा रहा है और श्रमिक स्पेशल ट्रेनों को राज्य में आने की इजाजत भी नहीं दी जा रही है. संबित पात्रा ने इस दौरान उत्तर प्रदेश की योगी सरकार की तारीफ की और कहा कि योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश में 487 ट्रेनों को राज्य में आने की इजाजत दी है. वहीं बिहार की नीतीश कुमार सरकार ने 254 ट्रेनों के राज्य में आने की इजाजत दी है. इससे पहले प्रवासी मजदूरों की समस्या को लेकर बीती रात बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा के घर पर बड़ी बैठक हुई है. इस बैठक में गृह मंत्री अमित शाह, रेल मंत्री पीयूष गोयल, कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी, पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत भी शामिल हुए.

The Depth

TheDepth is India's own unbiased digital news website.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *