डूटा ने वीसी को लिखा पत्र जानिए क्या है उनकी मांगे

नई दिल्ली. दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन ने तय किया है कि ओपन बुक के जरिए इस बार एग्जाम लिए जाएंगे. दिल्ली विश्वविद्यालय के फैसले पर दिल्ली विश्वविद्यालय शिक्षक संघ (डूटा) ने दिल्ली विश्वविद्यालय के कुलपति योगेश त्यागी को पत्र लिखा है.

इस पत्र में डूटा ने कहा कि प्रशासन का ये फैसला छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ है. विश्वविद्यालय के शिक्षक ऐसे व्यवहार को बर्दाश्त नहीं करेंगे. डूटा ने मांग की है कि विश्वविद्यालय प्रशासन को अपना आदेश वापस लेना होगा.

प्रदर्शन करेगा डूटा

डूटा का कहना है कि अगर विश्वविद्यालय प्रशासन प्रशासन ने उनकी मांगे नहीं मानी तो शिक्षक छात्रों के हितों के लिए बड़े स्तर पर प्रदर्शन करेंगे. ओपन बुक से परीक्षा लेने की बात है तो उस समय सभी स्टूडेंट्स के एक साथ प्रिंटर,कंप्यूटर, मोबाइल, इन्टरनेट आदि का उपयोग करने से दबाव काफी बढ़ जायेगा. यह भी संभव है कि काफी स्टूडेंट्स अपनी दी गई परीक्षा को सबमिट न करा पाए.

अपने पत्र में डूटा ने परीक्षा को लेकर सुझाव भी दिया है कि ऑनलाइन परीक्षा की जगह कॉपी-पेन से परीक्षा ली जाए, ताकि छात्रों एवं शिक्षकों दोनों को परीक्षा देने और परीक्षा लेने में दिक्कत का सामना न करना पड़े.

इन सभी मुद्दों को लेकर डूटा ने दिल्ली विश्वविद्यालय के कुलपति योगेश त्यागी को पत्र लिखकर इन समस्याओं से उन्हें अवगत कराया. उनसे अनुरोध किया कि बच्चों के भविष्य को लेकर अपने स्तर से उचित आदेश दे. ताकि छात्रों अपनी परीक्षा आसानी से दे पाए.

जानिए क्या है पूरा मामला

दिल्ली विश्वविद्यालय ने एक नोटिस जारी करते हुए अपनी परीक्षाओ को ऑनलाइन “ओपन बुक” से लेने की बात की थी. जिसको लेकर विश्वविद्यालय के छात्रों में भय का माहौल पैदा हो गया है कि परीक्षा कैसे दे पाएंगे. इस पर उन्होंने इस कदम के विरोध में ऑनलाइन कैंपेन शुरू कर दिया है. इस पर उनको सभी वर्गों से समर्थन प्राप्त हुआ है. इस पर डूटा ने उनका समर्थन किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *