घरेलू उड़ानों में यात्रा करने से पहले पढ़ ले ये दिशानिर्देश वरना हो सकती है परेशानी

नई दिल्ली. देश भर में लॉकडाउन 4.0 शुरू हो चुका है. इसी बीच भारत सरकार(Ministry of Civil Aviation) का हवाई उड़ानों पर बड़ा फैसला सामने आया है. देश में 25 मार्च से घरेलू उड़ानों की गतिविधि शुरू करने का फैसला सामने आया है.

नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पूरी(ministry of aviation) ने बुधवार को ट्वीट करते हुए कहा है कि 25 मई से घरेलू नागरिक उड्डयन परिचालनों में एक अंशकालिक तरीके से सिफारिश की जाएगी. सभी एयरपोर्ट्स और एयर कॅरियरर्स को 25 मई से परिचालन के लिए तैयार रहने कह दिया गया है.

हवाईअड्डे पर पालन किए जाने वाले कुछ नए एसओपी(Ministry of civil Aviation India):

  • यात्रियों को अनिवार्य रूप से हवाई अड्डे के टर्मिनल भवन में प्रवेश करने से पहले एक थर्मल स्क्रीनिंग ज़ोन के माध्यम से चलना होगा.
  • सभी यात्रियों को अपने मोबाइल पर आरोग्य सेतु ऐप रखना होगा. 14 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए ऐप की जरूरत नहीं होगी.
  • यात्रियों को प्रस्थान से 2 घंटे पहले हवाईअड्डे पर पहुचना होगा.
  • यात्रियों को टर्मिनल के भीतर जाने की अनुमति तभी होगी जब उनकी उड़ान 4 घंटे के अंदर होगी.
  • राज्य सरकारों और प्रशासन को यात्रियों और एयरलाइन्स चालक दल के लिए सार्वजनिक परिवाहन और निजी टैक्सीयों को सुनिश्चित करना होगा.
  • केवल निजी वाहनों या चुनिंदा कैब सेवाओं को यात्रियों तथा कर्मचारीयों को हवाई अड्डे या वहां से ले जाने की अनुमति होगी.
  • सभी यात्रियों के लिए मास्क और दस्ताने पहनना अनिवार्य है.
  • सोश्ल डिस्टेंसींग का ध्यान रखते हुए, यात्रियों की कुर्सियों को चिन्हित किया जाएगा.
  • सभी कर्मचारियों के पास हैंड सैनेटाइजर और व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण होना चाहिए.
  • ट्रॉलीयों को विशेष मामलों में छोड़कर, आगमन या प्रस्थान खंडों में अनुमति नहीं दी जाएगी. इसके लिए उन्हे कीटाणुरहीत किया जाएगा.
  • हवाई अड्डे संचालकों को प्रवेश से पहले सामान साफ करने की व्यवस्था करनी होगी.
  • भीड़ से बचने के लिए टर्मिनल के सभी गेट खोले जाएंगे.
  • प्रवेश द्वार, स्क्रीनिंग ज़ोन और टर्मिनलों पर कम से कम 1 मीटर पर निशान लगाया जाएगा. यात्रियों को इन्ही चिंहो पर खड़े रहना होगा.
  • ब्लीच से लथपथ मैट या कालीन को प्रवेश द्वार पर रखा जाएगा. ताकि जूतों से कीटाणुओं को हटाया जा सके.
  • जो काउंटर यात्रियों के साथ बातचीत करने के लिए होता है. वहां कर्मचारीयों के लिए फेस शील्ड वाले काउंटर होंगे.
  • टर्मिनल पे अखबार या पत्रिकाएं प्रदान नहीं की जाएंगी.
  • तेज बुखार, सांस लेने में दिक्कत या खासी वाले कर्मचारियों को हवाईअड्डे मे प्रवेश की अनुमति नहीं होगी.
  • जब उड़ाने उड़ान भरती है, तो यात्रियों को क्रमिक रूप से बैचों में बीमान छोड़ने की अनुमति होगी.

इन नियमों में आरोग्य सेतु ऐप की अनिवार्यता शामिल है. साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा. बता दें कि कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने से रोकने के लिए लागू लॉकडाउन के बीच देश में 25 मार्च से सभी व्यावसायिक यात्री उड़ानें निलंबित हैं.

एस ओ पी के लिए यहाँ पर क्लिक करे

Anjali Kumari

Aspiring news reporter and radio jockey.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *