हिंदूराव अस्पतालः कोरोना पोजिटिव हुए स्वास्थ्यकर्मी पति-पत्नी

इन दिनों कोरोना वायरस अपना कहर हर तरफ बरपा रहा है. इसका सबसे अधिक असर हो रहा है अस्पताल में कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज करने वाले स्वास्थ्य कर्मियों और डॉक्टरों पर. कोरोना वायरस का प्रकोप इतना बढ़ चुका है कि इन दिनों कोरोना संक्रमित होने से खुद डॉक्टर और मेडिकल स्टाफ भी नहीं बच पा रहे हैं.

दरअसल अस्पतालों में इन दिनों अधिकतर कोरोना के ही मरीज है. ऐसे में कई बार डॉक्टरों को पता नहीं होता कि किसका कोरोना टेस्ट हो चुका है और किसका नहीं. जाने अनजाने ये कोरोना संक्रमित के संपर्क में आ जाते हैं और खुद भी कोरोना का शिकार हो जाते हैं.

ऐसा ही एक मामला अब फिर सामने आया है जहां पति पत्नी कोरोना संक्रमित हो गए हैं. दरअसल कोरोना संक्रमित संदीप सिंह हिंदूराव अस्पताल में कार्यरत हैं. इनकी पत्नी नेहा सिंह फॉर्टिस अस्पताल, शालीमार बाग में काम करती हैं. दोनों के हाल ही में कोरोना टेस्ट हुए थे. जिसके बाद दोनों के टेस्ट कोरोना पॉजिटिव आए हैं.

इस संबंध में संदीप ने अपना एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल किया. इसमें उन्होंने लिखा कि उन्हें कोविड पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद एंबुलेंस की जरूरत है. मगर कोरोना वायरस हेल्पलाइन नंबर 1075 पर कई घंटों तक कॉल करने के बाद भी एंबुलेंस की व्यवस्था नहीं हो सकी.

खुद एक स्वास्थ्यकर्मी होने के बाद भी स्वास्थ्य सेवा का लाभ नहीं ले पा रहे हैं. ऐसे में वो खुद को और अपनी पत्नी को अस्पताल में भर्ती कराने में असमर्थ महसूस कर रहे हैं. साथ ही अपने परिवार को लेकर भी चिंतित हैं.

परिवार पर संक्रमण का खतरा

कोरोना वायरस छूने से फैलता है. ऐसे में संदीप को ये भी डर है कि कहीं उनकी पत्नी और उनसे कोरोना संक्रमण उनके परिवार वालों को न हो जाए. संदीप ने बताया कि उनके घर में 75 वर्ष की मां और दो बेटियां हैं जिनकी उम्र 12 और 6 वर्ष है. गौरतलब है कि तीनों की ही उम्र ऐसी है जहां उन्हें कोरोना वायरस होने का खतरा सबसे अधिक बना हुआ है

The Depth

TheDepth is India's own unbiased digital news website.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *