चांद दिखा, कल से रमजान का पवित्र महीना शुरू, PM मोदी ने ट्वीट कर दी बधाई

जब से कोरोना वायरस का संक्रमण फैला है तबसे हर तरफ कोरोना का ही जिक्र होता है. इस वायरस का असर त्योहारों पर भी पड़ने लगा है. इस बार रमजान का पवित्र महीना भी कोरोना वायरस संक्रमण के बीच में पड़ रहा है.

देश भर में जारी लॉकडाउन के बीच ही रमजान का महीना शुरू हो रहा है. हालांकि केंद्र और राज्य सरकारों ने मुस्लिम समुदाय के लोगों के लिए खास इंतजाम भी किए हैं. साथ ही सरकार लगातार अपील कर रही है कि नमाज पढ़ने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें और लोग घरों में ही रहें.

दिखा चांद, शनिवार से रोजे

शनिवार से रमजान का पवित्र महीने की शुरूआत हो रही है. शुक्रवार को चांद देखा गया और रमजान की घोषणा की गई. वहीं रमजान की घोषणा के साथ ही पीएम मोदी समेत नेताओं ने भी रमजान की मुबारकबाद दी.

पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा कि रमजान मुबारक. मैं सभी की सुरक्षा, कल्याण और समृद्धि के लिए प्रार्थना करता हूं. यह पवित्र महीना अपने साथ दया, सद्भाव और करूणा की प्रचुरता लेकर आए. हम कोरोना के खिलाफ चल रही इस लड़ाई में एक निर्णायक जीत हासिल करेंगे और स्वस्थ ग्रह बनाएंगे.

वहीं कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि हर किसी को रमजान की मुबारकबाद. मैं रमजान के इस महीने में सभी के लिए शांति और अच्छे स्वास्थ की कामना करता हूं.

कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए केंद्रीय अल्पसंख्यक मंत्रालय से लेकर राज्य सरकारों ने भी अलग अलग निर्देश जारी किए हैं. सरकारों, नेताओं और मुस्लिम धर्मगुरूओं ने भी जनता से अपील की है कि कोरोना के कारण एहतियात जरूर बरतें. घर से नमाज रोजा करें. सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें.

रमजान को लेकर सरकारें सतर्क

लॉकडाउन के बीच रमजान को लेकर उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने निर्देश जारी किए हैं. प्रशासन ने धर्मगुरुओं, मौलवियों और मौलानाओं से संवाद स्थापित कर यह तय किया है सहरी और इफ्तार के समय किसी भी प्रकार की भीड़ इकट्ठी नहीं होनी चाहिए.

योगी आदित्यनाथ ने लोगों से शहरी और इफ्तार घर पर ही करने की अपील की है, जिसका मुस्लिम धर्मगुरुओं ने भी मुख्यमंत्री की अपील का समर्थन किया है.

इसी तरह दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी साफ कह चुके हैं कि कोरोना महामारी के चलते रमजान में भी कोई ढील नहीं दी जा सकती है. हालांकि, मनीष सिसोदिया ने कहा कि अजान के लिए कोई पाबंदी नहीं है. लॉकडाउन में मस्जिदों में नमाज़ के लिए इकट्ठा होने या किसी अन्य धार्मिक स्थल पर पूजा आदि के लिए लोगों के इकट्ठा होने पर पूरी तरह पाबंदी रहेगी.

हरियाणा सरकार ने भी मुस्लिमों से रमजान को लेकर विशेष अपील है. हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि रमजान का महीना शुरू हो रहा है, इस बार सामाजिक दूरी रखते हुए इसे मनाएं. घर पर ही रहकर नमाज-रोजा अदा करें. पंजाब, कर्नाटक समेत कई राज्यों ने लोगों से इस त्योहार पर सामाजिक दूरी बनाए रखने की अपील की है.

The Depth

TheDepth is India's own unbiased digital news website.