घटने लगी भारत में टिक टॉक की रेटिंग

  • टिक टॉक की रेटिंग 4.6 से गिर के 1.3 हुई.
  • ट्विटर पर टिक टॉक की आलोचना करते हुए लोगों ने कहा इस मंच पर फेक न्यूज़, आतंकवाद, एसिड हमले जैसे जुर्म को बढ़ावा दिया जाता है.

गूगल प्ले स्टोर पर टिक टॉक की रेटिंग पिछले 3 दिनों से लगातार गिर रही है. पहले इस एप्लिकेशन की रेटिंग 4.6 थी लेकिन आज सुबह यह गिरकर 1.3 पर आ गई है. भारत में इंटरनेट उपयोगकर्ताओं ने टिक टॉक को बैन करने की गुहार लगाई है. ट्विटर पे ट्रेंड कर रहे हैशटैग #बैनटिकटॉकइनइंडिया पर हज़ारों लोग ट्वीट कर रहे हैं.

इन सबकी शुरुआत एक इंस्टाग्राम आई जी टी वी वीडियो से हुई थी. जब टिक टॉक स्टार आमिर सिद्दीकी ने इंस्टाग्राम पर यूट्यूबर्स के खिलाफ कुछ बातें कही. इस वीडियो में उन्होंने यूट्यूबर्स को टिक टॉक से कंटेंट चोरी करने का इल्जाम लगाया. साथ ही टिक टॉक यूजर्स की ब्रांड इमेज को यूट्यूब से अधिक बताया. अपने इस वीडियो में आमीर सिद्दीकी ने कुछ यूट्यूबर्स को टैग भी किया. कैरीमीनाटी के नाम से लोकप्रिय रोस्टर अजय नागर ने आमीर सिद्दीकी के जवाब में एक वीडियो बनाया. कुछ दिनों में ही इस वीडियो पर 10 लाख से ज्यादा लाइक्स आ गई थी और इस विडियो को 8 करोड़ से ज्यादा बार देखा गया था. पर यूट्यूब सेवा शर्तों के उल्लंघन करने के लिए इस विडियो को मंच से हटा दिया गया.

इन सबके बाद ट्विटर पर बहुत लोग टिक टॉक के खिलाफ ट्वीट करने लग गए. टिक टॉक आलोचक इस मंच पर हिंसा, घृणा और एसिड हमलों को बढ़ावा देने का आरोप लगा रहे हैं. दक्षिणपंथी कार्यकर्ताओं ने टिक टॉक पर आतंकवाद, इस्लामिक धर्म परिवर्तन और अश्लील वीडियो को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है. हालांकि, टिकटोक को भेजे गए ईमेल का अभी तक जवाब नहीं मिला.

Anjali Kumari

Aspiring news reporter and radio jockey.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *