इन रियल इस्टेट व्यापारियों ने इंडियन बैंक को लगाया 5.3 करोड़ रुपये का चूना

तेलंगाना में एक दंपत्ति ने मिलकर एक सरकारी बैंक को ही चूना लगा दिया. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक शादनगर पुलिस ने इंडियन बैंक के अधिकारियों के साथ धोखाधड़ी कर 5.3 करोड़ रुपये का कर्ज लेकर उसे वापस नहीं करने वाले दो रियल एस्टेट व्यापारियों को गिरफ्तार किया.

पुलिस ने बताया कि साई प्रापर्टी डेवलपर्स के प्रमुख पबंती प्रभाकर (47) और उसकी पत्नी पबंती सरिता (43) कुछ समय से रियल इस्टेट का कारोबार करते थे. इसी क्रम में दोनों ने स्थानीय इंडियन बैंक की शाखा में कुछ ग्राहकों के नाम पर फर्जी आय प्रमाण पत्र, फार्म-16 और अन्य फर्जी पत्र सौंपकर प्लाटों का मार्केट मूल्य कम रहने के बावजूद अधिक दिखाकर बैंक अधिकारियों को विश्वास में लेकर कुल 24 प्लांटों की खरीदी और 17 आवासों के निर्माण के लिए कर्ज लिया.

उन्होंने यह भी बताया कि 17 आवासों का निर्माण करने और 5 प्लाटों के लिए कर्ज का ईएमआई जमा नहीं कर बैंकों को 5.3 करोड़ रुपये का चूना लगाने वाले इन आरोपियों को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने उनके खिलाफ आईपीसी की धारा 406, 420, 468 और 471 के तहत मामला दर्ज किया है. मामले की जांच के दौरान पुलिस को यह भी पता चला कि उनके खिलाफ इससे पूर्व अब्दुल्लापुरमेट, केपीएचबी कॉलोनी, राजेंद्र नगर, मधापुर और नारसिंगी पुलिस थानों में विभिन्न धाराओं के तहत मामले दर्ज हैं.

The Depth

TheDepth is India's own unbiased digital news website.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *