फिर हुई पालघर जैसी घटना, योगी राज में साधुओं की हत्या

महाराष्ट्र के पालघर में दो साधुओं की लिंचिंग का मामला अभी थमा भी नहीं था ऐसा ही एक नया के स देखने को मिला है. इस बार उत्तरप्रदेश में ये मामला सामने आया है.

राज्य के बुलंदशहर के अनूपशहर कोतवाली में दो साधुओं की हत्या का मामला सामने आया है. घटना के वक्त दोनो साधु मंदिर परिसर में सो रहे थे, जब उनपर धारदार हथियार से वार किया गया. भीड़ ने शक के आधार पर एक व्यक्ति को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया है.

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो अनूपशहर कोतवाली के पगोना गांव के शिव मंदर में दो साधु रहते थे. साधु जगनदास (55 वर्षीय) और साधु सेवादास (35 वर्षीय) की देर रात धारदार हथियार के वार कर हत्या कर दी गई.

सुबह जब मंदिर में लोग पूजा के लिए पहूंचे तो खून से लथपथ साधुओं को देखकर हैरान रह गए. लोगों ने मामले की सूचना पुलिस को दी. इसी बीच ग्रामीणों ने एक व्यक्ति पर हत्या का शक जताया.

घटना की जानकारी मिलने पर पुलिस फोर्स ने ग्रामीणों की शिकायत पर शख्स को हिरासत में ले लिया. दोनों साधुओं के शव को पोस्टमार्टम के लिए भी भेज दिया. पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है.

पालघर में हुई थी साधुओं की हत्या

इससे पहले 16-17 अप्रैल को महाराष्ट्र के पालघर में भी दो साधुओं और उनके ड्राइवर की भीड़ ने पीट-पीटकर हत्या कर दी थी. भीड़ को शक था कि तीनों लूट के इरादे से आए हैं. इस मामले में 100 से ज्यादा लोग गिरफ्तार हुए हैं. पालघर कांड का मुख्य दोषी भी गिरफ्तार किया गया है.

The Depth

TheDepth is India's own unbiased digital news website.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *